दिल्ली: केंद्र सरकार देगी जगह, वहीं बनेगा संत रविदास मंदिर

Supreme Court of India

केंद्र सरकार आखिरकार संत रविदास मंदिर के लिए जगह देने पर सहमत हो गई है, जो हाल ही में चर्चा में था। दक्षिणी दिल्ली के संत रविदास मंदिर को डीडीए ने 10 अगस्त को हटा दिया था, जिसका देश भर में विरोध हुआ था। दिल्ली में एक बड़ा प्रदर्शन भी किया गया। अब यह निर्णय लिया गया है कि संत रविदास मंदिर का निर्माण उसी स्थान पर किया जाएगा जहां यह था।

सुप्रीम कोर्ट ने संत रविदास मंदिर का हल खोजने के लिए 5 अक्टूबर को केंद्र को लिखा था। आज अगली तारीख थी, जिस पर केंद्र सरकार ने जमीन देने की बात कही। अदालत तब दिल्ली कांग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष राजेश लिलोठिया की याचिका पर सुनवाई कर रही थी। यह याचिका डीडीए के खिलाफ थी।

केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि मामले की संवेदनशीलता और श्रद्धालुओं की आस्था के मद्देनजर सरकार संत रविदास मंदिर के निर्माण के लिए एक ही जगह पर 200 वर्ग मीटर जमीन देगी। मंदिर के लिए तब देश के विभिन्न हिस्सों से दलितों द्वारा रामलीला मैदान में एक विशाल प्रदर्शन किया गया था।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद इस संत रविदास मंदिर को हटा दिया गया था। 9 अगस्त को, सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि गुरु रविदास जयंती समारोह समिति ने शीर्ष अदालत के आदेश के बावजूद वनाच्छादित क्षेत्र को खाली नहीं करने का गंभीर उल्लंघन किया था। सुप्रीम कोर्ट में गुरु रविदास जयंती समारोह समिति बनाम भारत संघ के बीच सुप्रीम कोर्ट ने 10 अगस्त तक डीडीए से निर्माण हटाने का आदेश दिया था।

Related Posts

Popular News