sanjay-manjrekar

World Cup 2019: इन अहम वजहों से संजय मांजरेकर ने नंबर-4 पर केएल राहुल को किया खारिज

World Cup 2019: अब यह देखना बहुत ही रुचिकर होगा कि बांग्लादेश के खिलाफ मंगलवार को खेले जाने वाले दूसरे और आखिरी वॉर्म-अप मुकाबले में भारत किसे नंबर चार पर बैटिंग के लिए भेजेगा.

मुंबई:
जल्द ही इंग्लैंड में शुरू होने वाले वर्ल्ड कप (World Cup 2019) में टीम विराट पांच जून को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपने अभियान का आगाज करेगी, लेकिन मैनेजमेंट के सामने नंबर-4 बल्लेबाजी क्रम अभी भी पहली बन गया है. या ये कहें कि न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले वॉर्म-अप मैच के बाद इस बैटिंग ऑर्डर ने टीम को और टेंशन दे दी है. इस मुकाबले में भारत ने केएल राहुल को बैटिंग के लिए भेजा था, पर राहुल फायदा नहीं उठा सके. और अब पूर्व क्रिकेटर व कमंटेटर संजय मांजरेकर ने केएल राहुल को इस क्रम पर खारिज कर दिया है. केएल राहुल इस मुकाबले में दस गेंदें खेलकर सिर्फ छह रन बनाने में ही कामयाब रहे थे.

अब यह देखना बहुत ही रुचिकर होगा कि बांग्लादेश के खिलाफ मंगलवार को खेले जाने वाले दूसरे और आखिरी वॉर्म-अप मुकाबले में भारत किसे नंबर चार पर बैटिंग के लिए भेजेगा. पर संजय मांजरेकर का कहना है कि वह अभी भी नंबर चार पर विजय शंकर को ही बैटिंग के लिए भेजना पसंद करेंगे. शुक्रवार के मुकाबले में पहले मूल रूप से विजय शंकर को ही इस क्रम पर भेजा जाना था, लेकिन नेट प्रैक्सिट से दौरान चोटिल होने के बाद विजय इलेवन का हिस्सा नहीं बन सके थे.

मांजरेकर ने कहा कि केएल राहुल नंबर एक या दो के लिए ज्यादा अनुकूल हैं. और वह यदा -कदा ही नंबर चार पर खेले हैं. और जब भी राहुल को नंबर चार पर बैटिंग के लिए भेजा गया, तो वह मुझे नंबर चार बल्लेबाज नहीं ही दिखाई पड़े. राहुल नंबर एक या दो बल्लेबाज हैं, जो शीर्ष बल्लेबाजों का विकल्प हो सकते हैं. बता दें कि राहुल ने दो साल पहले वनडे में आगाज करने के बाद से केवल 14 मैच खेले हैं. इनमें से वह सिर्फ तीन ही मैचों में नंबर चार पर खेले हैं और इस ऑर्डर पर उनका औसत सिर्फ 13 का है, लेकिन विजय शंकर को अभी भी नंबर-4 पर खेलना बाकी है.

मांजरेकर ने कहा कि मैं विजय की इस क्रम पर इसलिए वकालत कर रहा हूं क्योंकि इस क्रम पर ऐसे बल्लेबाज की जरूरत होती है, जो खाली स्थान से गेंदों को निकाल सके, जो स्पिन को अच्छे तरीके से खेल सके और जो कलाइयों से भी शॉट खेलता हो. इस क्रम पर बैटिंग करने करने वाले बल्लेबाज को हर गीयर में बैटिंग करना आना चाहिए. उसे 20 पर 2 विकेट गिरने की स्थिति से भी निपटना आता हो और जब 2 विकेट पर 220 हो, तो वह यहां से स्कोर को गति भी देने की क्षमता रखता हो.

मांजरेकर ने कहा कि केएल राहुल ने हमेशा ही पारी की शुरुआत की, जबकि विजय शंकर मिड्ल ऑर्डर में बल्लेबाजी करते रहे हैं. ऐसे में मैं राहुल की जगह विजय शंकर को ही नंबर चार पर खेलते देखना चाहूंगा.

पढ़ें अन्य क्रिकेट समाचार