दूसरे युवक से रिश्ते के शक में बॉयफ्रेंड ने मॉडल की हत्या की

लिव इन में रहने वाली एक 19 वर्षीय मॉडल, जो मिस इंडिया 2019 की शीर्ष फाइनलिस्ट भी थीं, ने अपने प्रेमी को खुश करने के लिए 3 जुलाई, 2019 को अपना धर्म बदल लिया। लेकिन जिसके लिए उसने धर्म परिवर्तन किया, उसी प्रेमी ने अपने प्रेमिका को क्रूर तरीके से मार डाला। शरीर की पहचान न हो पाए, इसलिए चेहरे को पत्थरों से कुचल दिया। लड़की के शरीर की पहचान उसके शरीर पर बने टैटू से हुई थी। पुलिस ने इस मामले में त्वरित कार्रवाई की और प्रेमी को पकड़ लिया, फिर प्रेम और हत्या की एक सनसनीखेज कहानी सामने आई। मामला महाराष्ट्र के नागपुर जिले का है।

खुशी जगदीश पर‍िहार, जो नागपुर के हिंगना इलाके में रहते थे, मॉडलिंग की शौकीन थी। वह अपने प्रेमी अशरफ के साथ लिव इन में रह रही थी। उसी के प्रेमी अशरफ शेख ने चलती कार में टायर खोलने वाले उपकरण (टॉमी) से सिर पर वार किया। शनिवार को सावडी फाटा के पास सुनसान जगह पर खुशी का शव मिला।

शव पर लंबे जूते थे और शरीर पर मॉडल की तरह कपड़े थे। सूचना पुलिस को मिली, तो वह मौके पर पहुंची।

सोशल मीडिया पर घटनास्थल की तस्वीरें वायरल हुईं, और यह पता चला कि लापता लड़की का नाम खुशी है। उसके हाथ पर लव बर्ड का टैटू था, जिसमें खुशी ओर आशू ल‍िखा था। क्वीन भी छाती के पास गुदा हुआ था। यह टैटू उनकी पहचान में मददगार साबित हुआ।

खुशी ने जो टी-शर्ट पहनी थी, उसमें एक बार कोड था जो नागपुर के एक मॉल से निकला। पुलिस को इस मॉल से सारी जानकारी मिली।

पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया और मॉडल के प्रेमी अशरफ शेख उर्फ ​​आशू को गिरफ्तार किया। घटना में प्रयुक्त कार को जब्त कर लिया गया।

पुलिस के मुताबिक, प्रेमी ने कहा कि शुक्रवार को दोनों ने नागपुर के एक मॉल से करीब 6 हजार रुपये की खरीदारी की थी। यहां से उन्होंने एक काले रंग की टी-शर्ट खरीदी जो मॉडल ने पहन रखी थी।

पुलिस के अनुसार, खुशी फैशन शो में शामिल होती थी, उसे मॉडलिंग का शौक था। वह अपना जीवन अपने तरीके से जीना चाहती थी, इसलिए गरीब माता-पिता को छोड़कर अकेले नागपुर में रह रही थी। वह पब, क्लब और लग्जरी होटलों में जाती थी।

इस बीच खुशी को अशरफ शेख से एक पब में मिला। उसके बाद दोनों में दोस्ती हुई और वे एक साथ लिव इन रिलेशनशिप में रहने लगी। जल्द ही दोनों की शादी होने वाली थी। खुशी ने अपना धर्म और नाम बदलकर जायरा शेख कर लिया था।

खुशी अगर किसी अन्य दोस्त के साथ कहीं आती-जाती थी तो अशरफ पसंद नहीं था। अशरफ का दावा है कि इसके बावजूद खुशी किसी के साथ भी पब और होटलों में चली जाती थी। इसलिए उसने खुशी की हत्या कर दी।

पढ़ें अन्य क्राइम समाचार

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *