Crime News in Hindi

जंगल से लौट रही महिला से दुष्कर्म की कोशिश, नाकाम होने पर उतार दिया मौत के घाट

उत्तराखंड के कुंडा थाना क्षेत्र में जंगल से लकड़ी लेकर लौट रही 48 वर्षीय महिला की गला रेतकर हत्या करने के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। शुक्रवार को आरोपी ने मृतक महिला के साथ दुष्कर्म की कोशिश की थी, लेकिन पहचान लिए जाने के डर से उसने उसकी हत्या कर दी। आरोपी नशेड़ी प्रवृत्ति और हिंसक स्वभाव का है।

शनिवार को वारदात का खुलासा करते हुए सीओ मनोज ठाकुर ने बताया कि वारदात के बाद आसपास के गांवों श्यामनगर, बाबरखेड़ा और लालपुर में गोपनीय तरीके से लोगों से पूछताछ की गई। पूछताछ में सामने आया कि जहां मृतका लकड़ी काट रही थी वहीं पास के खेत में मुजफ्फर अली भांग रगड़ रहा था।

पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की तो उसने पूरा सच उगल दिया। बताया कि उक्त महिला को सुनसान खेत में अकेला देखकर उसने पीछा किया। दुष्कर्म करने की नीयत से पीछे से झपटा मारा, जिस पर महिला ने सिर से लकड़ी का गठ्ठर फेंका और भाग गई।

पहचान के डर से महिला के दोनों हाथ तोड़े फिर पाठल से किया वार पीछा कर फिर से महिला को धान के खेत के किनारे पकड़ लिया, जब महिला भागने लगी तो स्वयं के पहचान जाने के डर से उसने महिला के दोनों हाथ तोड़ दिए। उसने पाठल से महिला के सिर, आंख के पास और गले पर वार कर हत्या कर दी। सीओ ने बताया कि हत्या में प्रयुक्त पाटल, मुजफ्फर की खून से सनी कमीज बरामद कर ली गई है।

ये था मामला
क्षेत्र के गांव निवासी 48 वर्षीय महिला शुक्रवार की शाम हल्दुआ के झांदा वन क्षेत्र से लकड़ी लेकर लौट रही थी। करीब पांच बजे हल्दुआ निवासी रामदास मदान के खेत में महिला का शव पड़ा था। उसकी आधी गर्दन कटी हुई थी और हाथ पीछे की ओर मुड़े थे।

इसमें से एक हाथ टूटा पाया गया। घटनास्थल से करीब 50 मीटर की दूरी पर धान के खेत में लकड़ी का गठ्ठर पड़ा मिला। डॉग स्क्वायड और फोरेंसिक टीम ने मौके से साक्ष्य एकत्रित किए थे। उधर, मृतका के बेटे की तहरीर पर पुलिस ने हत्या का केस दर्ज किया था। मृतका के पति की दस साल पहले ही मौत हो गई थी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *