87वां एयरफोर्स दिवस: हिंडन एयरबेस पर वायुसेना दिखाएगी अपनी ताकत

गौरतलब है कि 8 अक्टूबर 1932 को भारतीय वायु सेना की स्थापना हुई थी। इस दिन को वायु सेना दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसका पहला दस्ता 1 अप्रैल 1933 को गठित किया गया था, जिसमें 6 आरएएफ-ट्रेंड अधिकारी और 19 एयरमैन शामिल थे। दुनिया ने वायु सेना की ताकत को लगातार देखा है, चाहे वह पाकिस्तान के साथ युद्ध हो या पाकिस्तान में हवाई हमला।

एक तरफ आज देश में वायु सेना दिवस मनाया जा रहा है, दूसरी तरफ वायु सेना की ताकत भी आज बढ़ जाएगी। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को आज फ्रांस में भारत का पहला फाइटर जेट राफेल मिलेगा, इसके अलावा राजनाथ सिंह राफेल विमान में भी उड़ान भरेंगे। राजनाथ सिंह राफेल विमान प्राप्त करने से पहले शस्त्र पूजा भी करेंगे।

वायु सेना दिवस के अवसर पर हर साल की तरह, इस बार भी वायु सेना गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस में अपनी ताकत दिखाएगी। इस बार पहली बार चिनूक और अपाचे हेलीकॉप्टर कार्यक्रम में अपनी ताकत दिखाएंगे। कार्यक्रम में 19 लड़ाकू विमान, 7 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट, 20 हेलीकॉप्टर सहित कुल 54 विमान भाग लेंगे।

Recent Posts