इलाहाबाद HC परिसर में साक्षी-अजितेश के साथ मारपीट, सुरक्षा देने का आदेश

बरेली से बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा की बेटी साक्षी और उनके पति अजितेश कुमार अपनी सुरक्षा मांगों को लेकर सोमवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट में पेश हुए। सुनवाई के दौरान, उच्च न्यायालय ने साक्षी और अजितेश को संरक्षित करने का आदेश दिया। इस बीच, अजितेश के वकील का कहना है कि कुछ लोगों ने उच्च न्यायालय परिसर में अजितेश पर हमला किया है, हालांकि पुलिस ऐसा करने से इनकार कर रही है।

साक्षी और अजितेश आज तक के स्टूडियो पहुंचे थे

बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा की बेटी साक्षी अपने पति अजितेश कुमार के साथ शुक्रवार को आजतक के स्टूडियो पहुंची थीं। इस बीच, आजतक ने विधायक राजेश मिश्रा से उनकी बेटी साक्षी के बारे में बात की। पिता से बात करते हुए साक्षी ने कहा, ‘पापा मुझे माफ कर दो’। इस पर विधायक राजेश मिश्रा ने कहा, “जहां रहो खुश रहो, मैंने कल ही अपना बयान दे दिया। मेरे परिवार को चैन से रहने दो। ‘

साक्षी ने कहा था – पढ़ने देते तो शादी नहीं करती

साक्षी ने आरोप लगाया कि उसके पिता ने उसे पढ़ने नहीं दिया। अगर वह पढ़ने देता, तो उसकी शादी नहीं होती। उन्होंने कहा, ‘मुझे घर से निकलने नहीं दिया। साक्षी ने कहा, ‘मैं उनसे कहना चाहती हूं कि आप अपनी सोच बदलो और जितना महत्व बेटे को देते हो उतना ही मुझे और मेरी बहन को भी दो।’

साक्षी और अजितेश ने बताई अपनी आपबीती, ससुर भी स्टूडियो भी पहुंचे

बता दें कि बरेली के बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा की बेटी साक्षी अपने दलित पति अजितेश कुमार के साथ शुक्रवार को आजतक के स्टूडियो पहुंची। साक्षी और अजितेश कुमार अपने रिश्ते के बारे में बता रहे थे कि अजितेश के पिता भी आजतक के स्टूडियो में पहुँच गए। अपने पिता को देखकर अजितेश भावुक हो गए और दोनों रोने लगे।

Related Posts

Popular News