cm yogi

बजट 2019-2020: योगी सरकार आज विधानमंडल में पेश करेगी वित्तीय वर्ष का पहला अनुपूरक बजट

विधान सभा और विधान परिषद में मंगलवार को वित्तीय वर्ष 2019-2020 का पहला अनुपूरक बजट पेश होगा। अनुपूरक बजट का आकार लगभग 15 हजार करोड़ रुपये अनुमानित है।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार का यह तीसरा अनुपूरक बजट है। यह अनुपूरक बजट वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए पेश किया जाएगा। बताया जा रहा है कि यूपी के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल दोपहर साढ़े बारह बजे विधानसभा में अनुपूरक बजट पेश करेंगे। इस बार का अनुपूरक बजट पिछले दो बार से बड़ा होगा।

एक अनुमान के मुताबकि योगी सरकार का तीसरा अनुपूरक बजट करीब 15 हजार करोड़ रुपये का हो सकता है। वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए सरकार का पहला अनुपूरक बजट 11 हजार 388 करोड़ रुपये का था। इसके बाद वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए दूसरा अनुपूरक बजट 8 हजार 54 करोड़ रुपये का पेश किया गया था।

एक्सप्रेस-वे परियोजनाओं को रफ्तार देगी सरकार

योगी सरकार ने चालू योजनाओं को आगे बढ़ाने और सरकार की अन्य घोषणाओं को ध्यान में रखते हुए अनुपूरक बजट पेश किया जा रहा है। अनुपूरक बजट में एक्सप्रेस-वे परियोजनाओं के लिए संसाधन जुटाने का इंतजाम किया जाएगा। योगी सरकार पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे, बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे के निर्माण में तेजी लाना चाहती है। इसके साथ ही गंगा एक्सप्रेस-वे और बलिया लिंक एक्सप्रेसवे परियोजनाओं को भी अमली जामा पहनाने में जुटी है। इसके अलावा प्रदेश में सात और शहरों को स्मार्ट सिटी के तौर पर विकसित करने और शहरों में माडल पार्क विकसित करने और उनमें तमाम सुविधाओं के लिए भी सरकार बजट से 350 करोड़ दे सकती है।

विश्व की सबसे ऊंची श्रीराम प्रतिमा के लिए हो सकता प्रावधान

अयोध्या में विश्व की सबसे ऊंची 251 मीटर की भगवान श्रीराम की प्रतिमा स्थापित होनी है। इस प्रतिमा के लिए बजट का प्रावधान हो सकता है। इसके अलावा अनुपूरक बजट में कई महत्वपूर्ण परियोजनाओं के लिए सरकार धन का प्रस्ताव करेगी।

(Source: Dainik Jagran)

पढ़ें अन्य राजनीति समाचार

Related Posts

Popular News